मंत्रालय की संरचना

संगठनात्मक ढांचा
(स्रोत-प्रशा.-II)
श्री पीयूष गोयल, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
श्री प्रदीप कुमार पुजारी सचिव (विद्युत) हैं। इनकी सहायता के लिए एक अतिरिक्त सचिव, एक वित्तीय सलाहकार तथा एक आर्थिक सलाहकार सहित छ: संयुक्त सचिव हैं।

उनका ब्योरा और उनके द्वारा किए जा रहे कार्य का विवरण निम्नवत है:

  1. अतिरिक्त सचिव (सुश्री शालिनी प्रसाद ) : (थर्मल, ट्रांसमिशन, ओ.एम )
  2. संयुक्त सचिव (श्रीमती ज्योति अरोड़ा) : (पारेषण, पीजीसीआईएल, आर एंड आर (राज्य बोर्ड पुनर्संरचना सहित), फ्रेंचाइजिंग सहित पारेषण एवं वितरण में खुली पहुंच के लिए नोडल अधिकारी और प्रचालन एवं अनुरक्षण)
  3. संयुक्त सचिव व वित्त सलाहकार (डॉ. प्रदीप कुमार) : (आंतरिक वित्त एवं बजटीय नियंत्रण)
  4. संयुक्त सचिव (सुश्री अर्चना अग्रवाल) : (सीपीएसयू, नामतः एनएचपीसी, एसजेवीएनएल, नीपको, टीएचडीसी सहित जल विद्युत मामले, जल विद्युत परियोजनाओं के लिए पर्यावरण प्रबंधन और बीबीएमबी)
  5. संयुक्त सचिव (डॉ. अरुण कुमार वर्मा) : (आईपीडीएस, पीएफसी,आरई, आरईसी, डीडीयूजीजेवाई, एनईएफ, वित्तीय पुनर्गठन योजना, स्मार्ट ग्रिड, नैशनल स्मार्ट ग्रिड मिशन)
  6. आर्थिक सलाहकार (श्री राज पाल) : (नीति एवं आयोजना, विद्युत परियोजना निगरानी पैनल, समन्वय, सीपीआरआई एवं एनपीटीआई सहित प्रशिक्षण एवं अनुसंधान, थोक सामग्री के परिवहन के लिए राकेश मोहन कमिटी और कर संबंधी सभी मामले)
  7. संयुक्त सचिव (श्री अनिरुद्ध कुमार) : (थर्मल, अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट्स , थर्मल, नेशनल थर्मल पावर निगम, दामोदर घाटी निगम, स्वतंत्र बिजली उत्पादकों (आईपीपी) , ईंधन की आपूर्ति और सतर्कता और सुरक्षा)
  8. संयुक्त सचिव (श्रीमती अंजू भल्ला) : (अंतर्राष्ट्रीय सहयोग, व्यवस्थापक, संसद, लोक शिकायत, सूचना का अधिकार, राजभाषा, आईटी)